Friday , December 14 2018
राम रहीम और हनीप्रीत

मध्य प्रदेश में राम रहीम और हनीप्रीत नाम के दो गधे 11 हजार में बिके

जबसे राम रहीम और हनीप्रीत का भांडा फूटा है तबसे सभी उनसे नफरत करने लगे हैं. लेकिन मध्य प्रदेश के एक शख्स ने उनसे नफरत दिखाने का एक अनोखा तरीका इजात किया.

मध्य प्रदेश के उज्जैन में हर साल एक गधा मेला लगाया जाता है. इस साल भी लगया गया. इस दौरान एक विक्रेता ने अपने गधों की जोड़ी का नाम राम रहीम और हनीप्रीत रखा था. दिलचस्प बात ये कि ये जोड़ी 11 हजार रुपये में बिकी.

 

ऑरगानाइजर के मुताबिक हर विक्रेता अपने गधों को अनोखे नाम देता है, ताकि आकर्षण का केंद्र बना रहे और इसकी कीमत भी मिले. यही नहीं कुछ विक्रेताओं ने अपने गधों का नाम जीएसटी, सुल्तान, बाहुबली और जियो तक नाम दिए थे.

जिस जोड़ी का नाम राम रहीम और हनीप्रीत रखा गया था, उसे राजस्थान के एक व्यापारी ने खरीदा था. ये मेला पांच दिन तक चला था.

 

जिस विक्रेता ने इस जोड़ी को बेचा उसका नाम हरीओम प्रजापति है. उसने ये जोड़ी गुजरात से खरीदी थी. उसने मीडिया को बताया कि वो इस जोड़ी को 20 हजार रुपये में बेचना चाहता था, लेकिन कम कीमत में बेचना पड़ा.

 

उसने कहा, ‘मुझे ऐसा कोई खरीदार नहीं मिला जो 20 हाजर दे सके. अंत में मुझे इसे 11 हजार रुपये में बेचना ही पड़ा.

 

जब उससे पुछा गया कि उसने अपने गधों की जोड़ी का नाम राम रहीम और हनीप्रीत क्यों रखा? तो उसने बताया कि वो इन दोनों को उनके किये का सजा अपनी तरह से देना चाहता था.

 

ये मेला मध्य प्रदेश में मौजूद क्षिप्रा नदी के किनारे पर लगाया गया था. विक्रेताओं ने मध्य प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात से गधे खरीदे थे. इस बार के इवेंट में दो हजार गधे बेचे गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *