Saturday , July 20 2019
विचित्र मंदिर

इन पांच विचित्र मंदिरों के बारे में जानेंगे तो हो जाएंगे हैरान, हमेशा रहते हैं चर्चाओं में

आज हम आपको भारत के पांच विचित्र मंदिर के बारे में बताते हैं जिनके बारे में तरह-तरह की बातें होती हैं। इन मंदिरों को भूतों के काल के रूप में जाना जाता है। कहते हैं कितना भी बड़ा साया हो, इन मंदिरों में पैर रखते ही भाग जाता है।

1- विचित्र मंदिर है देवीजी महराज मंदिर, लगता है भूतों का मेला

सबसे पहला मंदिर है देवीजी महाराज मंदिर। यह विचित्र मंदिर मध्य प्रदेश के बेतुल में स्थित है। यहां के मालाजपुर में मौजूद इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि अगर किसी के भी शरीर में शैतान का साया है तो यहां वह निकल जाता है। इतना ही नहीं कहते तो यहां तक हैं कि मंदिर में भूतों का मेला लगता है।

2- भानगढ़ गोपीनाथ मंदिर में भाग जाते हैं भूत

दूसरा सबसे रहस्यमयी मंदिर भानगढ़ में मौजूद है। यहां के भानगढ़ गोपीनाथा मंदिर के बारे में विचित्र मान्यता है। कहते हैं जिनके भी शरीर में भूत लग गए हैं या किसी का साया उनको परेशान करता है तो इस मंदिर में आने के बाद वह चला जाता है।

3- दत्‍तात्रेय मंदिर में मिलता है बुरी आत्माओं से छुटकारा

तीसरा मंदिर भी भूतों के साये भगाने के लिए प्रसिद्ध है। मध्य प्रदेश के दत्तात्रेय मंदिर के बारे में कहा जाता है कि किसी के भीतर कितना भी बुरा साया क्यों न हो, इस मंदिर की दहलीज पर कदम रखते ही वह भाग जाता है। यहां पूर्णिमा और अमावस्या को मेला लगता है।

4- बालाजी मंदिर में हनुमान से डरते हैं भूत

चौथा स्थान है बालाजी मंदिर का जो हनुमान जी का मंदिर है। राजस्थान में मौजूद यह मंदिर मेंहदीपुर के बालाजी के नाम से प्रसिद्ध है। यहां पत्थरों पर लोग बंधे रहते हैं। बड़े से बड़ा भूत भी यहां टिक नहीं पाता है। यहां से प्रसाद भी नहीं लाया जाता है।

5- शारदा देवी मंदिर में मिलता है माता का वरदान

मध्‍य प्रदेश के महियर में स्थित शारदा देवी मंदिर बुरी आत्‍माओं को नष्‍ट करने के लिये जाना जाता है। यहां दूर दूर से भक्‍त अपनी समस्‍यायें लेकर आते हैं। इस मंदिर में 1000 सीढि़यां है। कहा जाता है इस मंदिर में आज भी पहली आरती आल्‍हा उदल करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *