इंटरनेट बच्चों के लिए खतरनाक हो सकता है। यहां बताया गया है कि उन्हें किन खतरों का सामना करना पड़ सकता है और अपने बच्चों की सुरक्षा कैसे करें।

माता-पिता बनना कठिन है। अपने बच्चों को नुकसान से बचाना, शिक्षित करना, खिलाना और उनकी रक्षा करना आपका कर्तव्य और जिम्मेदारी है। लेकिन ऑनलाइन दुनिया में खतरे भौतिक दुनिया के खतरों जितना ही वास्तविक हो सकते हैं, और उन्हें खतरे से बचाना एक important काम हो सकता है।

बच्चों को ऑनलाइन किन खतरों का सामना करना पड़ता है?

जैसे-जैसे आपका बच्चा ऑनलाइन दुनिया में आगे बढ़ेगा, वे उन लोगों से बात करेंगे जिन्हें वे वास्तविक जीवन में जानते हैं—और वे लोग जिनसे वे पहले कभी नहीं मिले हैं।

Unhealthy Behaviour : किशोरों के लिए शरीर की समस्याएं होना और ऑनलाइन मदद की तलाश करना असामान्य नहीं है। यदि कोई बच्चा जो महसूस करता है कि उसका वजन अधिक है, वह गलत ऑनलाइन समुदाय में आता है, तो उसे अस्वास्थ्यकर व्यवहार अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सकता है।

धमकाना: बच्चे एक-दूसरे के लिए मतलबी होते हैं, और यह स्कूल के गेट पर नहीं रुकता। साइबरबुलिंग का मतलब है कि उन्हें कहीं भी धमकाया जा सकता है। सोशल मीडिया मे परेशान करने की वजह ने कई किशोर आत्महत्याओं को जन्म दिया है।

यौन शोषण: कभी-कभी, केवल-ऑनलाइन दोस्तों के साथ गहरे संबंध विकसित करना संभव है। कभी-कभी, यह इतना गहरा होता है कि आपका बच्चा शब्दों, छवियों और वीडियो के माध्यम से यौन व्यवहार में शामिल होने के लिए सहज रूप से मान जाता है। जिस व्यक्ति के साथ वे इन निजी क्षणों को शेयर करते हैं, वह वह नहीं हो सकता है जो वे दिखाई देते हैं, और उन्हें आगे शेयर कर सकते हैं। बच्चों को वास्तविक जीवन में दुर्व्यवहार करने वालों से मिलने के लिए भी फसाया जा सकता है।

ब्लैकमेल: यदि आपका बच्चा ऑनलाइन कुछ ऐसा कर रहा है जिसके बारे में आप नहीं जानते होंगे, तो वे खुद को ब्लैकमेल और जबरन वसूली के लिए खुला छोड़ देते हैं। अक्सर, जिन बच्चों को ऑनलाइन यौन गतिविधियों में फंसाया जाता है, उन्हें निजी जानकारी क शेयर करने की धमकी दी जाती है।

अपने बच्चे को ऑनलाइन सुरक्षित रखने के लिए आप क्या कर सकते हैं ?

ऑनलाइन होने पर अपने बच्चे को सुरक्षित रखना कठिन होता है, और इसमें आपके और आपके बच्चों के बीच विश्वास का स्तर, साथ ही साथ कुछ तकनीकी जानकारी भी शामिल होती है। यहां कुछ उपाय दिए गए हैं जिन्हें आप कर सकते हैं।

image credit-pexel
  1. कुछ वेबसाईट की पहुँच को ब्लॉक करें।

कुछ एसी वेबसाईटे ज की इसे इन्फॉर्मैशन शेयर करती है जो आपके बच्चों को नहीं देखनी चाहिए उन वेबसाईट को ब्लॉक करना चाहिए । कुछ वेबसाईट जो की पॉर्न शेयर करते है उन वेबसाईट को ब्लॉक कर सकते है । कुछ एसी भी वेबसाईट होती है जो की लुभावनी चीजों को दिखा कर आपके बच्चों की निजी जानकारी प्राप्त कर सकती है ।

2. कुछ उपकरणों को बच्चों से दूर रखे

बच्चों के पास आमतौर पर ज्यादा पैसा नहीं होता है, इसलिए इसकी संभावना नहीं है कि वे बाहर जाकर अपने उपकरण खरीद सकें। इसका मतलब है कि उनके पास वह सब कुछ है जो आपने उन्हें दिया है। इसमे या तो मोबाईल ,लैपटॉप या फिर टैबलेट हो सकता है माता-पिता बच्चों इन उपकरणों के उपयोग पर ध्यान दे सकते है ।

3.अपने बच्चों से ऑनलाइन खतरों के बारे में बात करें

माता-पिता अपने बच्चों से online दुनिया के खतरों के बारे मे बात कर सकते है । उन्हे बता सकते है के वे किस तरह के प्रॉब्लेम मे पड़ सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *